हरतालिका तीज पर जाने सही मुहूर्त और पूजन की विधि

Tuesday, September 11, 2018 12:50 AM
हरतालिका तीज पर जाने सही मुहूर्त और पूजन की विधि
हिंदू धर्म में महिलाओं के लिए तीज का बहुत ही महत्व है. हरतालिका तीज के दिन देवों के देव महादेव और माता गौरी की पूजा का विधान है. हरतालिका तीज महिलाएं अपनी पति के लम्बी उम्र के लिए करतीं हैं, इसे कुंवारी लड़कियां भी करतीं है मनचाहा वर पाने के लिए.

हिन्दू पंचाग के मुताबिक हर साल हरितालिका तीज भादो माह की शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है. इस बार यह व्रत 12 सितंबर को मनाया जा रहा है. यानी की कल हरतालिका तीज का शुभ मुहूर्त सुबह के 6 बजकर 15 मिनट से 8 बज तक रहेगा. और शाम को जो महिलाएं शाम को तीज का पूजन करती है तो वह शाम के 7 बजे से 8 बजे के बीच पूजा कर सकतीं हैं.

भारत के कई हिस्से राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में तीज को हरतालिका तीज के नाम से जाना जाता है. तो वहीं दक्षिण राज्य जैसे कर्नाटक, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में इस त्योहार को गौरी हब्बा के नाम से जाना जाता है.

आइए जानते है हरतालिका तीज का महत्व
हरतालिका तीज की पूजा को करना जितना कठिन है, उतना ही कठिन है इसका व्रत रखना. मान्यता है, इस व्रत के दौरान महिलाएं बिना पानी के 24 घंटे तक व्रत रखती हैं. कुछ एक स्थिति में अगर तृतीया का समय 24 घंटे से ज्यादा का रहता है तो इस व्रत की अवधि बढ़ती है.

हरतालिका तीज पर कैसे करें पूजा
हरितालिका तीज का व्रत निराहार और निर्जल रहकर किया जाता है. व्रत को रखने वाली महिलाएं और युवतियां सुबह उठकर स्नान आदि करके भगवान शिव की पूजा करती है. महिलाएं और युवतियां भगवान शिव को गंगाजल, दही, दूध और शहद से स्नान कराकर उन्हें फल चढ़ाती हैं और पति की लंबी आयु की कामना करती हैं.

हरतालिका तीज पर पूजन के लिए - गीली काली मिट्टी या बालू रेत, बेलपत्र, शमी पत्र, केले का पत्ता, धतूरे का फल एवं फूल, अकांव का फूल, तुलसी, मंजरी, जनैव, नाडा, वस्त्र, सभी प्रकार के फल एवं फूल, फुलहरा (प्राकृतिक फूलों से सजा), मां पार्वती के लिए सुहाग सामग्री - मेहंदी, चूड़ी, बिछिया, काजल, बिंदी, कुमकुम, सिंदूर, कंघी, माहौर, बाजार में उपलब्ध सुहाग पुड़ा आदि, श्रीफल, कलश, अबीर, चन्दन, घी-तेल, कपूर, कुमकुम, दीपक, घी, दही, शक्कर, दूध, शहद पंचामृत के लिए आदि. का होना आवश्यक है.


Related News

पानी कम पिने से होती है इतनी गंभीर बीमारियां, जरुर पढ़ें...

डिहाइड्रेशन जैसी चीजों को लोग इतना सीरियस नहीं लेते क्योंकि ये कोई बड़ी बिमारी नहीं है. लकिन आपको बता दें डिहाइड्रेशन से कितनी गंभीर बीमारी...

जानें क्या होता है करवा चौथ में सरगी का महत्व

विवाहित महिलाओं के लिए करवा चौथ इस बार 27 अक्तूबर को पड़ रहा है. लेकिन इस करवा चौथ के पहले भी कुछ रश्में होतीं है जिसे निभाना...

करवा चौथ के दिन जानें कब दिखाई देगा चांद

हर औरत अपनी पति की लम्बी उम्र के लिए करवा चौथ व्रत रखती है. भारत में ये परंपरा शदियों से चलती आ रही है. पति-पत्नी...

आपके दोस्त केवल दोस्त हैं या उससे भी ज्यादा, पढ़ें..

आज के इस दौर में लड़के-लड़कियों में दोस्ती होना आम बात है, पुरानी सोच को पीछे छोड़ आज की पीढ़ी बहुत...

अपने पैरों को बनाए इस तरह से खूबसूरत

कहा जाता है हमारे शरीर का सबसे खूबसूरत हिस्सा पैर होता है. लेकिन अक्सर लोग अपने चेहरे की देखभाल अपने पैर...

<< prev
1 2 3 4 5
next >>
Prime News - Live TV‎