किसान की इस बेटी ने पीटी उषा और मिल्खा को भी छोड़ा पीछे...

Thursday, July 12, 2018 11:12 PM
किसान की इस बेटी ने पीटी उषा और मिल्खा को भी छोड़ा पीछे...
भारत को आईएएएफ की ट्रैक स्पर्धा में गोल्ड मेडल हासिल हुआ है. भारत की हिमा दास ने गुरुवार को फिनलैंड के टेम्पेरे में जारी आईएएफ वर्ल्ड अंडर-20 चैंपियनशिप की महिलाओं की 400 मीटर स्पर्धा में स्वर्ण जीत कर इतिहास रच दिया हैं.

असम की 18 वर्षीय एथलीट हिमा दास का नाम गूगल में सबसे ऊपर ट्रेंड कर रहा है. वो इसलिए क्योंकि चंद मिनट पहले ही उन्होंने फिनलैंड के टैम्पेयर शहर में इतिहास रच दिया है. हिमा ने आईएएएफ विश्व अंडर-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप की 400 मीटर दौड़ स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता है.

पियुष गोयल ने हिमा दास को ट्वीट करते हुए बधाई दी और लिखा की  'एक बार फिर भारत की बेटी  विश्व  चैम्पियनशिप में 400 मीटर में स्वर्ण जीतकर इतिहास रच दिया हैं.  इस महान जीत पर उनको कई बधाई, आपने पूरे देश को गर्व बनाया है'.

हिमा दास से पहले सबसे अच्छा प्रदर्शन मिल्खा सिंह और पीटी उषा का रहा था. पीटी उषा ने जहां 1984 ओलंपिक में 400 मीटर हर्डल रेस में चौथा स्थान हासिल किया था.

मिल्खा सिंह 1960 रोम ओलंपिक में 400 मीटर रेस में चौथे स्थान पर रहे थे. इन दोनों के अलावा कोई भी खिलाड़ी ट्रैक इवेंट में मेडल के करीब नहीं पहुंच सका.
 
यह पहली बार है कि भारत को आईएएएफ की ट्रैक स्पर्धा में गोल्ड मेडल हासिल हुआ है. उनसे पहले भारत की कोई महिला खिलाड़ी जूनियर या सीनियर किसी भी स्तर पर विश्व चैम्पियनशिप में गोल्ड नहीं जीत सकी थी. हिमा ने यह दौड़ 51.46 सेकेंड में पूरी की.
 
रोमानिया की एंड्रिया मिकलोस को सिल्वर और अमरीका की टेलर मैंसन को ब्रॉन्ज मेडल मिला. दौड़ के 35वें सेकेंड तक हिमा शीर्ष तीन खिलाड़ियों में भी नहीं थीं, लेकिन बाद में उन्होंने रफ्तार पकड़ी और इतिहास बना लिया. स्पर्धा के बाद जब हिना ने गोल्ड मेडल लिया और सामने राष्ट्रगान बजा तो उनकी आंखों से आंसू छलक पड़े.

बता दें कि हिमा की कहानी सिर्फ इतनी सी ही नहीं है. उनकी इस अपार सफलता के पीछे उनकी कड़ी मेहनत और हिम्मत का काफी बड़ा किरदा है. हिमा असम के एक साधारण किसान की बेटी हैं, जो चावल की खेती करते हैं. वह बेहद साधारण परिवार से ताल्लुक रखती हैं.
 
उनके कोच निपोन दास ने बताया कि उन्हें पूरा विश्वास था कि हिमा कम से कम टॉप थ्री में जरूर शामिल होगी. 400 मीटर की रेस में उन्होंने अपनी ताकत का लोहा पूरी दुनिया में मनवाया है. उनके कोच ने बताया कि हिमा ने दो साल पहले ही रेसिंग ट्रैक पर कदम रखा था. निपोन ने बताया कि शुरुआत में हिमा लड़कों के साथ फुटबॉल खेला करता थीं.

कोच निपोन ने जब उन्हें मैदान पर लड़कों को छकाते देखा तो वह उनके परिवार वालों से मिले और उन्हें एथलीट जगत में भाग्य आजमाने की सलाह दी। बेटी को एथलीट बनाने के लिए परिवार असमर्थ था, इसलिए शुरुआत से ही कोच ने उनकी काफी सहायता की.
 
सबसे पहले तो हिमा को अपना परिवार छोड़कर करीब 140 किलोमीटर आकर बसना पड़ा. इसके लिए शुरुआत में उनके परिजन इस बात के लिए राजी नहीं थे, लेकिन कोच निपोल की जिद के आगे परिवार ने घुटने टेक दिए और फिर शुरू हुआ हिमा की कामयाबी का सफर.

खास बात यह है कि हिमा गोल्ड जीतने के बाद अब इंडियन एथलीट के एलीट क्लब में शामिल हो चुकी हैं. लेकिन सीमा पुनिया, नवजीत कौर ढिल्लों और नीरज चोपड़ा की तरह वह ऐसी शख्सियत बनकर उभरी हैं जो जिन्हें कामयाबी के साथ लोकप्रियता भी मिली है.

बता दें कि हिमा दास ने इस उपलब्धि के साथ उस सूखे को भी खत्म कर दिया जो भारत के लेजेंड मिल्खा सिंह और पीटी उषा भी नहीं कर पाए थे.हिमा दास से पहले भारत की कोई महिला या पुरुष खिलाड़ी जूनियर या सीनियर किसी भी स्तर पर विश्व चैम्पियनशिप में गोल्ड या कोई मेडल नहीं जीत सका था.

लगातार शानदार प्रदर्शन
आपको बता दें कि बुधवार को हुए सेमीफाइनल में भी शानदार प्रदर्शन करते हुए 52.10 सेकंड का समय निकालकर वो पहले स्थान पर रही थीं. पहले दौर की हीट में भी 52.25 समय के साथ वो पहले स्थान पर रहीं. एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने भी हिमा दास को उनकी कामयाबी के लिए बधाई दी है.

एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया ने भी हिमा दास को शानदार सफलता के लिए बधाई दी है.
 

Related News

एक्शन में CM योगी, लखनऊ पुलिस लाइन का किया औचक निरीक्षण

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज लखनऊ पुलिस लाइन का औचक निरीक्षण किया. निरीक्षण की सूचना मिलते ही डीजीपी ओपी सिंह...

सागर में राहुल गांधी ने जनसभा को किया संबोधित, PM मोदी पर साधा निशाना

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सागर पहुंचे. इस दौरान राहुल गांधी...

जवाहर लाल नेहरू का कोई असतित्व ही नहीं था: साक्षी महाराज

यूपी के कन्नौज से बीजेपी के सांसद साक्षी महाराज ने देश के पहले प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरू को लेकर...

सिग्नेचर ब्रिज पर अश्लीलता फैलाने पर पुलिस ने किया 4 लोगों को गिरफ्तार

दिल्ली के सिग्नेचर ब्रिज पर अश्लीलता फैलाने की खबरें आ रही है. जिसको लेकर पुलिस भी सकते में आ गई है. दिल्ली पुलिस...

मोदी का कांग्रेस को जवाब, कहा- अगर नेहरू की वजह से चायवाला प्रधानमंत्री बना, तो...

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए पीएम नरेंद्र मोदी अंबिकापुर पहुंचे. इस दौरान पीएम मोदी ने चुनावी सभा को संबोधित करते...

<< prev
1 2 3 4 5
next >>
Prime News - Live TV‎